हल्द्वानी। विश्व एड्स दिवस पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा ललित आर्य बालिका इण्टर काॅलेज में जागरूकता शिविर का आयोजन, प्राधिकरण सचिव एवं सिविल जज निहारिका मित्तल गुप्ता की अध्यक्षता में किया गया विधिक साक्षरता एव जागरूकता शिविर का आयोजन

0
28

हल्द्वानी। विश्व एड्स दिवस पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा ललित आर्य बालिका इण्टर काॅलेज में प्राधिकरण की सचिव एवं सिविल जज निहारिका मित्तल गुप्ता की अध्यक्षता में विधिक साक्षरता एव जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में सम्बोधित करते हुए श्रीमती निहारिका ने कहा कि एड्स के संक्रमित व्यक्ति की रोग प्रतिरोधन क्षमता घटने लगती है तथा इसका पूर्ण रूप से उपचार अभी तक संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि एचआईवी संक्रमण शरीर की प्रतिरोधन क्षमता को इस हद तक कमजोर कर देता है कि इसके बाद शरीर अन्य संक्रमणों से बचाव करने में अक्षम हो जाता है। उन्होंने कहा कि यह एक जानलेवा बीमारी है। इसे रोकने का एकमात्र तरीका नागरिकों को जागरूक किया जाना है। उन्होंने कहा कि जागरूक होकर एवं सावधानियाॅ बरत कर ही एचआईवी जैसे संक्रमण से बच सकता है। उन्होंने कहा कि इस वर्ष की थीम ’’know your status’’ यानि अपने एचआईवी स्टेटस के बारे में जानें। उन्होंने कहा कि 30 से 63 वर्ष के व्यक्तियों को कम से कम एक बार अवश्य एचआईवी टेस्ट कराना चाहिए। उन्होंने बताया कि एचआईवी का पता एलिसा टेस्ट के माध्यम से शरीर मे मौजूद एचआई एंटीबाॅडी से लगाया जाता है। शिविर में मनुष्य में एड्स संक्रमण फैलने के कारण, एड्स का निर्वारण एवं रोक-थाम तथा इसके लक्षण के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इसके साथ ही बालिकाओं को स्नेहयुक्त शारीरिक स्पर्श और गलत शरीरिक स्पर्श (गुड टच एण्ड बेड टच), महिला हिंसा, बाल संरक्षण के विषय में महत्वपूर्ण जानकारियाॅ दी तथा बालिकाओं से विभिन्न विषयों पर जानकारियाॅ ली। शिविर में प्रोबेशन अधिकारी व्योमा जैन, एडवोकेट प्रियंका जोशी, निर्भया प्रकोष्ठ की सदस्य संगीता टाकुली, उप निरीक्षक धरम सिंह सहित बालिकाएं एवं अध्यापिकाएं उपस्थित थी। कार्यक्रम का संचालन किरन पन्त ने किया।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here